Home / Diseases / What is Piles in Hindi | बवासीर (Piles) क्या है?

What is Piles in Hindi | बवासीर (Piles) क्या है?

बवासीर (Piles) सभी देशो के लोगो में पाई जाने वाली एक आम बीमारी है। इसे इंग्रेजी में Piles/Hemorrhoid और मराठी में मूलव्याध के नाम से जाना जाता है। आम भाषा में इसे ख़ूँनी बवासीर या बादी बवासीर के नाम से जाना जाता है। तो कही जगह इसे महेशी के नाम से जाना जाता है। अगर ये बढ़ जाये तो एक ख़तरनाक बीमारी है।

इस लेख में बवासीर (Piles) क्या है? के बारे पर चर्चा की गई है। तो आइए जानते है Piles kya hai?

What is Piles in Hindi | बवासीर (Piles) क्या है? हिंदी में

कभी कभी गुदा और मलाशय में मौजूद नसों में तनाव और सूजन आती है उसे बवासीर (Piles) कहते है। आमतौर पर देखा जाये तो यह मलाशय और गुदा में स्थित जो Varicose Veins होती है उसकी बीमारी है। बवासीर (Piles) गुदा या मलाशय के अंदर की तरफ या बाहर की ओर हो सकता है।

वैसे बवासीर (Piles) होने के कई कारण हो सकते है, लेकिन इसके होने के कारण का पता अभी तक नहीं लग पाया है। हालांकि इसके कई मौजूदा कारन है,

१) यह मल त्याग करने के दौरान अत्यधिक जोर लगाने के कारण हो सकता है।
२) स्र्तियोंको गर्भावस्था (Pregnancy) के दौरान गुदा की vains में दबाव बढ़ने के कारण हो सकता है।

Symptoms of Piles in Hindi

Symptoms of Piles in Hindi | बवासीर (Piles) के लक्षण हिंदी में

बवासीर (Piles) के Symptoms भी विभिन्न प्रकार के हो सकते हैं,
१) गुदा में होने वाली खुजली या तकलीफ
२) गुदा से blood आना
३) गुदा का हिस्सा बाहर की तरफ निकल जाना आदि तक हो सकते हैं।

बवासीर (Piles) के Symptoms इसकी गांभीर्य पर depend करते हैं। बवासीर (Piles) का इलाज हमारे lifestyle में कुछ सरल बदलाव करने से किया जा सकता है। जैसे Fiber युक्त खाद्य पदार्थों के साथ भोजन और Cream लगाना। वही कुछ जटिल समस्याओ में इलाज के लिए operation करना पड सकता है।

बहुत ही कम मामलों में बवासीर (Piles) से कठिनाइयाँ पैदा होती है। लेकिन अगर बवासीर (Piles) को इलाज किए बिना छोड़ दिया जाए, तो इससे लंबे समय तक सूजन व लालिमा बानी रह सकती है और भगन्दर (Fistula) होने की संभावना भी बढ़ जाती है।

आमतौर पर बवासीर (Piles) इतनी हानिकारक बीमारी नहीं है और लेकिन इससे अगर किसी प्रकार की problem हो रही हो, तब इसका इलाज करने की आवश्यकता है। गर्भावस्था (Pregnancy) में होने वाला बवासीर (Piles) आमतौर पर खुद से ही ठीक हो जाता है।

कब्ज (Constipation) के कारण होने वाले बवासीर (Piles) को ठीक करने के लिए अपने आहार व जीवनशैली में बदलाव करना महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, बवासीर (Piles) का इलाज सर्जरी से भी किया जा सकता है।

About nitin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

Home Remedies for Kidney Stone

पथरी से निजात पाने के सबसे अच्छे और गुणकारी तरीके | Effective Home Remedies to Get Rid of Kidney Stone

Gurde Ki Pathri Ko Thik Karne Ke Gharelu Upay दुनिया में पायी जाने वाली सबसे ...