Home / Relationship / Health Tips / महिलाओं और पुरुषों में उत्तेजना का समय होता है अलग-अलग, क्या आपको पता है? | Stimulation time is different in women and men

महिलाओं और पुरुषों में उत्तेजना का समय होता है अलग-अलग, क्या आपको पता है? | Stimulation time is different in women and men

सर्वेक्षण से पता चलता है कि महिला और पुरुष अलग-अलग समय पर सेक्शुअली अ‍ॅक्टिव फील करते हैं, जिससे कि शारीरिक संपर्क की उनकी इच्छा अलग-अलग समय पर जागती है।

इसलिए यदि आपको लगता है कि आपका साथी कम शारीरिक सम्बन्ध बनाता है, तो यह उसके अलग समय पर सेक्शुअली अ‍ॅक्टिव फील करने के कारण हो सकता है। आज हम इस लेख में इस बारे में कुछ रोचक और अद्भुत बातें बताने जा रहे है, तो आइये इस बारे में विस्तार से जानते है…

Stimulation time is different in women and men

महिलाओं की कामेच्छा अधिक जटिल, अधिक मनोवैज्ञानिक है।

सबसे ज्यादा किस समय पुरुष और महिलाएं उत्तेजित होती है? | What time do men and women get excited the most?

रिपोर्ट के अनुसार, एक कंपनी द्वारा २३०० वयस्कों के साथ एक सर्वेक्षण किया गया था। उनमेसे लगभग ७० प्रतिशत महिलाओं ने कहा कि उनकी सेक्स ड्राइव (sex drive) उनके और उनके साथी से मेल नहीं खाती। क्योंकि दोनों अलग-अलग समय पर उत्तेजित होते हैं।

यह मुख्य रूप से महिलाओं और पुरुषों के विभिन्न हार्मोन चक्र (hormone cycle) के कारण होता है।

पुरुषों का कहना है कि वे अपने दिन की शुरुआत सुबह ६ से ९ बजे के बीच शारीरिक संबंध बनाकर करना चाहते हैं। उनमे रात में ११ से २ बजे के बीच यौन संबंध बनाने की इच्छा जागृत होती है।

कुल मिलाकर देखा जाये तो, पुरुष सुबह ७ से ८ बजे के दौरान सबसे अधिक उत्तेजित होते हैं। वही महिलाएं रात को ११.३० बजे ज्यादा उत्तेजित होती है।

पुरुषों और महिलाओं में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कब ज्यादा होता हैं? | When are testosterone levels higher in men and women?

सुबह में पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन का स्तर अधिक होता है। जबकि महिलाओं में टेस्टोस्टेरोन का स्तर धीरे-धीरे बढ़ता है। लेकिन उनके टेस्टोस्टेरोन का स्तर उनके मासिक धर्म चक्र (menstrual cycle) पर भी निर्भर करता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि जहां महिलाएं लचीली (flexible) होती हैं, वहीं पुरुषों की इच्छा सीधे समय पर आधारित होती है।

महिलाओं की सेक्स ड्राइव समय से परे कई चीजों से प्रभावित हुई है। लेकिन अलग-अलग शेड्यूल से सेक्स लाइफ खत्म नहीं होनी चाहिए।

महिलाएं सबसे अधिक यौन सक्रियता कब महसूस करती है? | When do women feel most sexually active?

सर्वेक्षण के अनुसार, महिलाओं की कामेच्छा अधिक जटिल, अधिक मनोवैज्ञानिक है। इसका उनके पार्टनर से कोई लेना-देना नहीं है।

यदि वे अच्छा आत्मसम्मान महसूस करते हैं और उत्तेजित होते हैं, तब वे निस्संदेह शारीरिक संबंधों के लिए आगे बढ़ेंगी। उस समय, वे संभोग का अनुभव करने की अधिक संभावना रखते हैं, चाहे कोई भी समय हो।

आप कितनी बार सेक्स करते हैं या नहीं करते हैं, इसका गिल्ट (guilt) छोड़कर भी एक अच्छा लैंगिक जीवन (sex life) हासिल कीया जा सकती है।

अक्सर महिलावोंकी तबतक शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा नहीं होती, जब तक कि पार्टनर के साथ फोरप्ले शुरू न हो जाए। जो ऐसा कहता है, उसके बारे में मत सोचो। वही करें जो आपका मन कहता है।

(नोट: उपरोक्त सुझाव केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए हैं। अतः इसक उपयोग करने से पहले विशेषज्ञों की सलाह जरूर ले।)

अगर आपको यह post पसंद आये तो comment जरूर करे और आपकी प्रसन्नता दर्शाने हेतु कृपया इसे Facebook और Twitter पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करे।

About sagar

Hello, I am Sagar Kanherkar lives in Pune. I am the Author and Founder of Ghareluremedies. I am a fitness freak who loves to read, travel and sports. Thinking about for the past 1 year and now finally I am decided to start my blog. This blog offers you a detailed review of Home Remedies, Fitness Tips, Healthy Ideas, Health News and More.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*